NOTIFICATIONS

Upcoming Notifications
Exam Date Reminder

LATEST ANNOUNCEMENTS

Admit Card / Call Letter
Cutoff & Answer Key
Interview Schedule
Interview Results
Exam Results

Other Help Desk

Interview Questions
Previous Year Papers
Famous Exam Pattern & Selection Process

List Of Famous Person in Assam -

There are many famous persons from Assam who got the fame. Below is the List Of Famous Person in Assam -

असम एक सांस्कृतिक रूप से समृद्ध राज्य है। राज्य में प्रसिद्ध कामख्या मंदिर से लेकर दुनिया का सबसे बड़ा नदी आइलैंड माजुली मौजूद है । असम की तरह ही यहां के लोग विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त कर चुके हैं। राज्य ने समय-समय पर कुछ महान सामाजिक-सांस्कृतिक और धार्मिक नेताओं को जन्म दिया है।

भूपेन हजारिका -

भूपेन हजारिका हमेशा के लिए असम के नाम को लोगों के दिमाग में अपने दिल से गाते हुए गाने बनाते थे। वह असम के साडिया क्षेत्र में पैदा हुए थे, हजारिका के अंदर संगीतकार से के अलावा कई कलाये मौजूद थी। वह एक गायक, गीतकार, कवि और फिल्म निर्माता थे। उनकी कई असमिया रचनाओं का प्रसिद्ध रूप से बंगाली, हिंदी और अन्य भाषाओं में अनुवाद किया गया है। उनकी कुछ सबसे प्रसिद्ध रचनाओं में बिस्टिरनो परोर, मनुहे मनुहर बाबे और बाकू होम कोरे शामिल हैं। संगीत और सिनेमा में उनके योगदान के लिएउन्हें पुरस्कार के रूप में कई श्रद्धांजलि अर्पित की गयी व पुरूस्कार दिए गए जोकि निम्न प्रकार है, जैसे पद्म भूषण (2001), दादा साहेब फाल्के पुरस्कार 1992, संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार (2008), और मरणोपरांत, पद्म विभूषण (2012)।

जाहनू बरुआ -

उन्हें असम के फिल्म उद्योग के अग्रदूतों में से एक माना जाता है, उन्होंने सिर्फ असम राज्य में ही नहीं बल्कि उससे बाहर भी अपना नाम रोशन किया गया । वह एक सम्मानित फिल्म निर्देशक है , जिन्होंने अजयो, हलोधिया चोरय बाओधन खाई, बाँधोन इत्यादि जैसी सफल फिल्मों का निर्देशन किया है। वह प्रशंसित हिंदी फिल्म 'मैंने गाँधी को नहीं मारा' के निर्देशक है। 2003 में बरुआ को पद्मश्री और 2015 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

आदिल हुसैन -

वह बॉलीवुड के प्रसिद्ध अभिनेता है जिनका जन्म असम के निचले क्षेत्र गोलपारा में हुआ था। हुसैन ने कई प्रशंसित फिल्मों जैसे रिलाक्टेंट फंडामेंटलिस्ट, नेमसेक, इंग्लिश विंग्लिश, लाइफ ऑफ पीआई में अभिनय किया है। आदिल हुसैन एक अच्छे अभिनेता है जिन्होंने हॉलीवुड सिनेमा में भी काम किया है।

पापोन -

पापोन के अलावा उन्हें अंगाराग महंता के नाम से भी जाना जाता है, वह हिंदी फिल्म उद्योग के प्रमुख पार्श्व गायकों में से एक है। बिहू सम्राट खगेन महंता के बेटे, पापोन की गहरी व दिल को छू लेने वाली आवाज ने संगीत प्रेमियों के दिल में एक जगह बनाई है। प्लेबैक गायन के अलावा, पापोन के पास एक बैंड भी है - द ईस्ट इंडिया कंपनी जो मुख्य रूप से लोक-फ़्यूज़न संगीत करती है। उनके कुछ प्रसिद्ध गीतों में शामिल हैं - मोह मोह के धागे, क्यों, बुलेय्या, हमनवा, जिए क्यों इत्यादि।

शिवा थापा -

वह गुवाहाटी के 22 वर्षीय मुक्केबाज है जिन्होने अपने उत्कृष्ट खेल कौशल के कारण अपना नाम रोशन किया है। वह रियो ओलंपिक 2016 के लिए क्वालीफाई करने वाले सबसे छोटे भारतीय मुक्केबाज है। हालांकि ओलंपिक में उनका प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं था, फिर भी उनके पास अब भी अपनी प्रतिभा को साबित करने के लिए काफी समय है। थापा ने 2015 विश्व एमेच्योर चैम्पियनशिप और 2010 युवा ओलंपिक खेलों को पहले से ही जीता हुआ है।

जयंता तालुकदार -

आर्चर जयंत तालुकदार का जन्म गुवाहाटी में हुआ था और वह भारतीय तीरंदाजी टीम का हिस्सा रहे है जो ओलंपिक, एशियाई खेलों और दक्षिण एशियाई खेलों में देश का प्रतिनिधित्व करती है। उनकी जीत की शुरुआत तब हुई जब 2004 में उन्होंने जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक जीता व एफआईटीए मेटेक्सन विश्व कप (2006) में स्वर्ण पदक जीता। उसी वर्ष, उन्होंने दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता। वह 2006 एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली तीरंदाजी टीम के सदस्य भी थे।

जादव पेएंग -

जादव पेएंग एक पर्यावरणविद है। उन्होंने एक कार्यकर्ता होने और नारेबाजी करने की बजाए, ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे पर बहुत सारे पेड़ लगाए और इसे जंगल के रिजर्व में बदल दिया जोकि जोरहाट में कोकिलामुख के नजदीक स्थित है , इस जंगल का नाम पेएंग के नाम पर रखा गया है और इसे मोलाई वन भी कहा जाता है। उन्होंने 1979 में पेड़ों को रोपण करना शुरू कर दिया था और आज यह जंगल बाघों, राइनो, सांपो और कई अन्य जानवरों का घर है। जंगल में 1360 एकड़ क्षेत्र है और पेएंग ने क्षेत्र में सारे प्रकार के पेड़ो का प्लांटेशन किया है। 2015 में, पेन्ग को पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। उन्हें पूर्व जेएनयू के कुलपति सुधीर कुमार सोपरी द्वारा 'Forest Man Of India ' का नाम दिया गया।

रीमा कागती -

निर्देशक और पटकथा लेखक रीमा कागती, बॉलीवुड के प्रोडक्शन हाउस एक्सेल एंटरटेनमेंट का एक अभिन्न हिस्सा है, जिसका स्वामित्व फरहान अख्तर व रितेश सिधवानी के पास है। वह गुवाहाटी में पैदा हुयी है, रीमा ने दो फिल्मों - हनीमून ट्रेवल्स प्राइवेट लिमिटेड (2006) और तालाश (2012) को डायरेक्ट किया है। इसके अलावा उन्होंने कई अन्य फिल्म प्रोडक्शन में सहायक डायरेक्टर के रूप में भी काम किया है।

Last Updated -  16 November 2018

Hello, readers if you found any problem in the list then please contact us on our mail.

Hope You Guys Liked our article about List Of Famous Person in Assam. Thank You

Close Menu